उत्तराखंड

बड़ी ख़बर:उत्तराखंड मे सबसे बड़ी अनाज भंडारण सुविधा का शुभारम्भ

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सहकारिता विभाग ने दुनिया की सबसे बड़ी अनाज भंडारण सुविधा के उद्घाटन के साथ कृषि क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। यह उल्लेखनीय उपलब्धि किसानों को सशक्त बनाने और देश के लिए खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने की सरकार की प्रतिबद्धता का प्रमाण है।

500 मीट्रिक टन क्षमता का पहला गोदाम उत्तराखंड के देहरादून जिले के एमपैक्स सहसपुर में रिकॉर्ड तोड़ समय में बनाया गया है। इस सुविधा का उद्घाटन किसानों के सामने खाद्यान्न भंडारण में आने वाली चुनौतियों के समाधान की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इस अत्याधुनिक भंडारण सुविधा के साथ, किसानों को अब अपनी उपज के संरक्षण के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं होगी, जिससे वे अपनी उत्पादकता बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे।

इस विश्व प्रसिद्ध भंडारण योजना में उत्तराखंड के सहसपुर गोदाम को शामिल किया जाना ग्रामीणों के लिए गर्व की बात है। उद्घाटन समारोह के लाइव प्रसारण ने स्थानीय समुदाय को इस ऐतिहासिक क्षण का गवाह बनने और उनके जीवन पर इसके प्रभाव को समझने का मौका दिया।

यह मील का पत्थर देश के कृषि परिदृश्य को बदलने की सरकार की प्रतिबद्धता का प्रमाण है। किसानों को विश्व स्तरीय भंडारण सुविधाओं तक पहुंच प्रदान करके, सरकार न केवल खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित कर रही है बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक विकास और समृद्धि के अवसर भी पैदा कर रही है।

उत्तराखंड के देहरादून जिले के एम पैक्स सहसपुर में दुनिया की सबसे बड़ी अनाज भंडारण सुविधा का उद्घाटन एक महत्वपूर्ण अवसर है जिसका किसानों और समग्र रूप से कृषि क्षेत्र के जीवन पर दूरगामी प्रभाव पड़ेगा। यह अभूतपूर्व पहल कृषि उद्योग में क्रांति लाने और किसानों को आज के गतिशील परिदृश्य में फलने-फूलने के लिए सशक्त

बनाने के प्रति सरकार के समर्पण को रेखांकित करती है। उद्घाटन समारोह में देहरादून जिले के एआर श्री सुमन कुमार, डीजीएम नाबार्ड पुनीत कुमार और डीजीएम एनसीडीसी, एडीओ सहसपुर व जैसे ग्रामीणों की उपस्थिति कृषि क्षेत्र के लिए सरकार के अटूट समर्थन को उजागर करती है। उनकी उपस्थिति न केवल इस उपलब्धि के महत्व को दर्शाती है बल्कि कृषि प्रगति को आगे बढ़ाने में विभिन्न हितधारकों के सहयोगात्मक प्रयास को भी दर्शाती है।

Related Articles

Back to top button