उत्तराखंड

मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर में बड़ी कदम: मुख्य सचिव राधा रतूड़ी के नए दिशा-निर्देश से राज्य में स्वास्थ्य की सुधार

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने राज्य में निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेजों एवं अस्पतालों के साथ ही उनमें डॉक्टर्स, नर्सिंग ऑफिसर्स, पैरामेडिकल एण्ड एन्सिलरी स्टाफ के पद सृजन आदि की प्रक्रिया भी साथ-साथ संचालित करने की हिदायत दी।

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में आज विधानसभा भवन में राजकीय मेडिकल कॉलेज पिथौरागढ़ के ढांचे के गठन में राजकीय मेडिकल कॉलेज हरिद्वार के सापेक्ष कम हो रहे पदों की संख्या के संबंध में बैठक संपन्न हुई। Chief Secretary Radha Raturi gave instructions मुख्य सचिव ने राज्य के निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेजों एवं अस्पतालों के साथ ही उनमें डॉक्टरों, नर्सिंग अधिकारियों, पैरामेडिकल एंड एन्सिलरी स्टाफ के पद सृजन आदि की प्रक्रिया भी साथ-साथ संचालित करने की हिदायत स्वास्थ्य विभाग, वित्त विभाग एवं कार्मिक विभाग को दी है।

उन्होंने कहा कि इस तरह से निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेजों का समय पर संचालन शुरू हो पाएगा। मुख्य सचिव ने हरिद्वार मेडिकल कॉलेज में 216 तथा पिथौरागढ़ मेडिकल कॉलेज में 216 डॉक्टरों के पदों से संबंधित स्थिति को तत्काल स्पष्ट करने के निर्देश वित्त विभाग को दिए हैं। मेडिकल टूरिज्म की बेहतरीन संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए मुख्य सचिव ने पिथौरागढ़ मेडिकल कॉलेज तथा नैनीताल के भवाली स्थित टीबी सेनेटोरियम के संबंध में एक बैठक पर्यटन विभाग के साथ आयोजित करने के निर्देश दिए हैं।

राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं की मजबूती के दृष्टिगत मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने राज्य के मैदानी जिलों के समान ही पर्वतीय जिलों में बनने वाले मेडिकल कॉलेज एवं अस्पतालों में भी पर्याप्त संख्या में डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ तथा अन्य स्टाफ की व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश स्वास्थ्य, वित्त एवं कार्मिक विभाग को दिए।

Related Articles

Back to top button