उत्तराखंड

क्रांतिकारी शालू सैनी नई पीढ़ी के लिए आदर्श:आचार्य सेमवाल

जयपाल सिंह

रुड़की।श्री शिव शक्ति ज्योतिष अनुसंधान केंद्र के संस्थापक आचार्य रमेश सेमवाल जी महाराज ने कहा कि ईश्वर सबसे अधिक उन व्यक्तियों को प्रिय समझता है,जो उसके प्राणियों की सेवा करता है।उनके जीवन के साथ-साथ मृत्यु के पश्चात भी उनके लिए सत्कर्म करता है। आचार्य रमेश सेमवाल ने मुजफ्फरनगर से पधारी क्रांतिकारी शालू सैनी का अभिनंदन करते हुए कहा की शालू सैनी एक ऐसा महान पुण्य कार्य को अंजाम दे रही है,जो बड़े-बड़े धर्माचार्य या नेता भी अंजाम नहीं दे सकते,वह लावारिस व अनाथ अस्थियों को एकत्रित कर उनको हरिद्वार लाकर गंगा में प्रवाहित करती है।मुझे विश्वास है कि तमाम मृतक आत्माएं शालू सैनी के लिए प्रार्थनारत होगी।शालू सैनी एक ऐसी सोच का नाम है जो समाज में शोषित,पीड़ित व अपेक्षित लोगों की आवाज बनकर हमारे सामने आ रही है,वहीं दूसरी ओर रामपुर स्थित कार्यालय पर इमरान देशभक्त ने उनका अभिनंदन और स्वागत किया तथा कहा कि अपने धर्म के लिए वे अच्छा कार्य कर रही है,जोकि सराहनीय है।

Related Articles

Back to top button